सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

पोस्ट

Motivational

फणीश्वरनाथ रेणु की कहानी एक आदिम रात्रि की महक

न ...करमा को नींद नहीं आएगी। नए पक्के मकान में उसे कभी नींद नहीं आती। चूना और वार्निश की गंध के मारे उसकी कनपटी के पास हमेशा चौअन्नी-भर दर्द चिनचिनाता रहता है। पुरानी लाइन के पुराने 'इस्टिसन' सब हजार पुराने हों, वहाँ नींद तो आती है।...ले, नाक के अंदर फिर सुड़सुड़ी जगी ससुरी...! करमा छींकने लगा। नए मकान में उसकी छींक गूँज उठी। 'करमा, नींद नहीं आती?' 'बाबू' ने कैंप-खाट पर करवट लेते हुए पूछा। गमछे से नथुने को साफ करते हुए करमा ने कहा - 'यहाँ नींद कभी नहीं आएगी, मैं जानता था, बाबू!' 'मुझे भी नींद नहीं आएगी,' बाबू ने सिगरेट सुलगाते हुए कहा - 'नई जगह में पहली रात मुझे नींद नहीं आती।' करमा पूछना चाहता था कि नए 'पोख्ता' मकान में बाबू को भी चूने की गंध लगती है क्या? कनपटी के पास दर्द रहता है हमेशा क्या?...बाबू कोई गीत गुनगुनाने लगे। एक कुत्ता गश्त लगाता हुआ सिगनल-केबिन की ओर से आया और बरामदे के पास आ कर रुक गया। करमा चुपचाप कुत्ते की नीयत को ताड़ने लगा। कुत्ते ने बाबू की खटिया की ओर थुथना ऊँचा करके हवा में सूँघा। आगे बढ़ा। करमा समझ ग
हाल की पोस्ट

Chhota jadugar famous hindi story

  छोटा जादूगर  जयशंकर प्रसाद की प्रसिद्ध कहानी famous hindi story छोटा जादूगर आपके साथ शेयर करे रहे हैं। यह एक हृदय स्पर्शी मार्मिक कहानी है जो आपके दिल को छू लेगी। कार्निवल के मैदान में बिजली जगमगा रही थी। हँसी और विनोद का कलनाद गूँज रहा था। मैं खड़ा था उस छोटे फुहारे के पास, जहाँ एक लड़का चुपचाप शराब पीनेवालों को देख रहा था। उसके गले में फटे कुरते के ऊपर से एक मोटी-सी सूत की रस्‍सी पड़ी थी और जेब में कुछ ताश के पत्‍ते थे। उसके मुँह पर गंभीर विषाद के साथ धैर्य की रेखा थी। मैं उसकी ओर न जाने क्‍यों आकर्षित हुआ। उसके अभाव में भी संपन्‍नता थी। मैंने पूछा, ''क्‍यों जी, तुमने इसमें क्‍या देखा?" ''मैंने सब देखा है। यहाँ चूड़ी फेंकते हैं। खिलौनों पर निशाना लगाते हैं। तीर से नंबर छेदते हैं। मुझे तो खिलौनों पर निशाना लगाना अच्‍छा मालूम हुआ। जादूगर तो बिलकुल निकम्‍मा है। उससे अच्‍छा तो ताश का खेल मैं ही दिखा सकता हूँ।'' उसने बड़ी प्रगल्‍भता से कहा। उसकी वाणी में कहीं रूकावट न थी। मैंने पूछा, ''और उस परदे में क्‍या है? वहाँ तुम गए थे?" ''नहीं, वह

story in hindi writing

 विपरीत परिस्थितियो में व्यक्तित्व का निर्धारण STORY IN HINDI WRITING Hi  दोस्तों आज हम In hindi story पर आपके कर लिए एक और motivational story लेकर आये हैं। यह कहानी आपको निश्चित रूप से प्रेरित करेगी।        एक बार एक पुत्र ने बहुत दुखी और जिंदगी से निराश होकर अपने पिताजी से शिकायत की वो अपनी जिंदगी से बहुत परेशान हो चुका है । रोज उसकी life में नई नई परेशानी आती रहती हैं। एक problem सॉल्व करता हूँ तो दूसरी problem उत्पन्न हो जाती है। हमेशा मेरे साथ ही क्यूँ ऐसा होता है?        पिता ने पुत्र को कहा " जाओ kitchen से कुछ अंडे , कुछ आलू और कुछ कॉफी बिन्स ले कर आओ।" पुत्र ने वैसा ही किया।         पिता ने फिर पुत्र से कहा अब इन्हें छूकर बताओ इनके बारे में। पुत्र ने कहा पिताजी आलू कठोर है , अंडे मुलायम हैं और कॉफी बिन्स ठोस हैं।        पिता ने फिर पुत्र को कहा good अब एक काम करो इन तीनों को पानी में कुछ समय के लिए उबालो ( गर्म ) कर के लेकर आओ। पुत्र किचन में जाकर तीनो को अलग अलग बर्तन में उबाल कर तीनो बर्तनों को लेकर आता है। एक बर्तन में आलू , दूसरे में अंडे और तीसरे बर्तन में कॉफ

Kisan a motivational story in hindi/ किसान ए मोटिवेशनल स्टोरी इन हिंदी

 Kisan a motivational story in hindi/ किसान ए मोटिवेशनल स्टोरी इन हिंदी रामू एक गरीब किसान का बेटा था। उसके परिवार में उसकी एक छोटी बहन , माँ और पिता थे। रामू के पिता ने रामू को कभी भी गरबी का अहसास नही होने दिया। जो कोपड़े , खिलौने , जूते रामू को पसन्द आते रामु के पिता उसको दिला देते । रामु की बहन को अपने परिवार को स्थिति को समझती थी । इसलिए वो हमेशा कम खर्चा करती और पढ़ने में ज्यादा से ज्यादा मेहनत करती ।           रामू और उसकी बहन एक ही क्लास में पढ़ते थे। अब वो 10 वी कक्षा में आ गए थे। रामू की बहन ने मेहनत करना जारी रखा। वह रोज खानाँ बनाने और घर का काम करने में माँ की सहायता करती और उसके बाद पढ़ाई करती। तो वहीं रामू सारा समय अपने दोस्तों के साथ आवारा गर्दी करने में गुजार देता।             अब परीक्षा का समय  आ गया था। इसलिए रामू ने  भी पढ़ाई करने शुरू कर दिया । परीक्षा हुई और आखिर में रिजल्ट का दिन आ गया । 10 वीं की परीक्षा में रामू की बहन ने पूरे प्रदेश में प्रथम स्थान प्राप्त किया था। तो वहीं रामू fail हो गया था।             रामु के घर के बाहर उसके बहन को बधाई देने के लिए गांव के आ जा

सुबह जल्दी उठने के फायदे /shubah jldi uthane ke fayde

 सुबह जल्दी उठने के फायदे  हमें बचपन से सिखाया गया है कि हमें सुबह जल्दी उठना चाहिये। पर क्यों हमें सुबह जल्दी उठना चाहिये ? ये सवाल तो अक्सर आपके दिमाग में भी आता होगा। हमारे वेदों में भी माना है कि प्रत्येक मनुष्य को ब्रह्म महुर्त में उठना चाहिये। हिन्दू धर्म ही नही बल्कि दुनिया के सभी धर्म में सुबह जल्दी उठने के महत्व को बताया गया है। आज आपको इस पोस्ट में सुबह उठने के फायदे और सुबह उठने के तरीके के बारे में बताएंगे। सुबह उठने के बारे में अंग्रेजी की एक लोक प्रिय कहाबत है "अर्ली टू बेड और अर्ली टू राइज़ मेक्स अ पर्सन हेल्दी, वेल्दी ऐंड वाइज़ " अर्थ  - रात को जल्दी सोने और सुबह जल्दी उठने की आदत व्यक्ति को स्वस्थ , धनवान और अक्लमंद ( बुद्धिमान)  बनाती है। सुबह जल्दी उठने के फायदे - 1. शांत वातावरण  -   जब आप सुबह उठते है तो वातावरण में शोरगुल नही होता है सिर्फ आपको पंक्षियों की आवाज सुनाई देगी जो आपको एक अदभुत मानसिक शांति का अनुभव कराएंगी। पुरे दिन में सुबह जल्दी ही एक ऐसा समय होता है । जब आपके आस इतनी शांति महसूस करते हैं। 2. स्वास्थ्य लाभ - सुबह ऑक्सीजन का लेवल सर्वाधिक

UPSC और STATE PSC Exam के लिए बेस्ट प्रेरणादायक Quotes in hindi

 UPSC और STATE PSC Exam के लिए बेस्ट प्रेरणादायक Quotes in hindi UPSC का पुरा नाम  UNION PUBLIC SERVICE COMMISSION ( संघ लोक सेवा आयोग ) और STATE PSC का पूरा नाम ( राज्य लोक सेवा आयोग है) ये दोनों ही EXAM लेते है । UPSC का EXAM भारत के अत्यधिक प्रतिष्ठित EXAM में से एक माना जाता है । जिससे यह आईएएस और आईपीएस जैसे अधिकारियों की भर्ती करता है।         जबकि state psc  डिप्टी कलेक्टर , एस डी एम , डी एस पी जैसे अधिकारियों की भर्ती करता है। इन दोनों ही एग्जाम की तैयारी करने वाले छात्रों बहुत अधिक मेहनत के साथ साथ खुद को मोटीवेट रखने की भी बहुत आवश्यकता होती है। आज हम ऐसे छात्रों के लिए मोटिवेशनल हिंदी quotes ले कर आये है। जो आपको इन एग्जाम की तैयारी करने के लिए प्रतोसाहित करेंगे। UPSC और STATE PSC के लिए बेस्ट हिंदी QUOTES - QUOTES 1 .  -   " छोटी मोटी सरकारी  सरकारी नौकरी करना IMPORTANT नही है। लोक सेवा आयोग की परीक्षा की तैयारी कर रहे ये ज्यादा IMPORTANT है।" QUOTES 2. -  " लोक सेवा आयोग की परीक्षा आपको एक बढ़ा अधिकारी बनाती है। इसलिए मेहनत भी आपको वैसी ही करनी पड़ेगी।"

आत्मविश्वास कैसे बढ़ाएं? Self Confidence बढ़ाने के 10 बेहतरीन तरीके

  आत्मविश्वास कैसे बढ़ाएं? Self Confidence बढ़ाने के 10 बेहतरीन तरीके यदि जीवन को भरपूर जीना हो तो आत्मविश्वाश जरुरी है , यदि खुद की अलग पहचान बनानी है तो self confidence  जरुरी है स्कूल लाइफ से professional life  तक आत्मविश्वास की जरुरत होती है। जिन व्यक्तियों के अंदर आत्मविश्वास नही  होता वो तनावग्रस्त हो जाते हैं । उदास रहने लगते हैं उन्हें जीवन नीरस प्रतीत होने लगता है , कोई कार्य करने में मन नही लगता  है। जो व्यक्ति आत्मविश्वासी होतें है वो ही अपने जीवन को अपने अनुसार जीते हैं और अपने सपनो को पूरा करते हैं। क्या होता है आत्मविश्वास  ? What is self confidence -   आत्मविश्वास दो शब्दों से मिलकर बना है आत्म + विश्वास जिसका अर्थ होता है स्वयं पर विश्वास । यदि हम को अपने ऊपर विश्वास है तो वो हमारा आत्मविश्वास कह लायेगा। यदि आपको कोई ऐसा कार्य करने  के लिए बोला जाये जो आपने कभी नही किया । तो आपके पास  दो ऑप्शन होंगे या तो आप बोल दोगे की आप वो कार्य नही कर सकते क्योंकि अपने पहले कभी नही किया । दूसरा ऑप्शन आप बोलो की मैंने ये कार्य पहले कभी नही किया पर मैं कोशिश कार्य को करने की कोशिश जरू