सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

पोस्ट

अक्तूबर, 2017 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

आत्मविश्वाश......a very motivational story

आत्मविश्वाश......a very motivational story Motivational kahani कहानी के अंतर्गत बहुत ही मोटिवेशनल स्टोरी share कर रहा हूँ यह मोटिवेशनल कहानी  आपकी जिंदगी परिवर्तित कर सकती है Inhindistory               एक  बिजनिस मेन राम को अपने बिजनैस मे बहुत घाटा लग जाता है जिससे वह कर्ज मे बुरी तरह फंस जाता है उसके दोस्त famely सब उसका साथ छोड़ देते हैं ऐसी हालत मे जनरली लोग क्या सोचते है सोसाइड करने की वह भी यही सोचने लगता है कि उसकी जिंदगी बर्बाद हो गई अब उसके जीवन मे कुछ अच्छा नही हो सकता इतना सारा कर्ज वह कभी भी नही चूका सकता ऐसे ही बैठा पार्क मे यह सब सोचता है तभी सामने से एक व्यक्ति आता दिखाई देता है उस व्यक्ति के पहनावे से साफ लगता है कि वह कोई बहुत अमीर  आदमी है वह सीधा राम  के पास जाता है और उसकी उदासी का कारण पूछता है राम अपनी पूरी story उसे बताता है वह व्यक्ति थोड़ा गंभीर हो कर कुछ सोचता fir बोलता है कि वह इस शहर का सबसे अमीर आदमी है और अपनी जेब से एक blank check देता है और बोलता है कि तुमको जीतने भी रुपए की जरुरत हो भर लेना । एक साल बाद हम ऐसी पार्क मे मिलेंगे जब मेरे रुपए बापस कर

Safalta ke niyam....

                                      Safalta ke niyam    सफलता के लिए कुछ महत्वपूर्ण बातों को follow करना होता है हर व्यक्ति जीवन मे सफल होना चाहता है पर कुछ ही लोग ऐसा कर पाते हैं क्योंकि bahut कम लोगो को सफलता के नियम पता होते है भौतिकी के नियम की तरह सफलता के भी नियम होते हैं आज जो सफल व्यक्ति हैं उन्होंने कहीं न कहीं न कहीं किसी न किसी रूप मे इन नियम को जरूर फॉलो किया है आज मै गौरव आप के साथ सफलता के नियम share कर रहा हूँ मुझे विश्वाश है कि ये नियम आप को सफलता प्राप्त करने मे महत्वपूर्ण भूमिका अदा करेगें। 1.law of aim----:   यह सफलता प्राप्त करने का सबसे महत्वपूर्ण law है एक minute सोचिये की आप को कहीं जाना है पर आप को ये नही पता की कहाँ जाना है तो आप कहाँ पहुँचोगे कहीं भी नहीं पहुँच पयोगे या फिर कहीं भी पहुँच जाओगे एक minute सोचिये की आप को delhi जाना है अब आप कहाँ पहुँचोगे genral सी बात है delhi ही पहुँचोगे यह छोटी सी बात है पर समझों तो यह बताती है कि यदि हमको पता हो की कहाँ जाना है तो हम निश्चित ही वही पहुँचते है जहां हमे जाना है आप को जानकर हैरानी होगी की 80-90% ल